Webmail
Kisan Call Center CALL TOLL FREE NUMBER 1800-180-1551 (from any Landline or Mobile) 1551 (from BSNL Landline)
           
कृशक समूहों की सफलता की कहानी
कृशकों का सामूहिक प्रयास- ओल की उन्नत खेती एवं आयवद्र्धन
नाम :- श्री दिवाकर सिंह
 पिता :- श्री रामचरित्र प्रसाद सिंह (सेनानिवृत्त षिक्षक)
ग्राम+पो0 :- ददरीजाला
प्रखंड :- संग्रामपुर
जिला :- मुंगेर,
 षिक्षा :- आर्इ0 एस0 सी0 (बायोलाजी)
 जन्मतिथि :- 21.12.1972
बिहार राज्य का मुंगेर जिला ऐतिहासिक दृषिटकोण से काफी प्रसिद्ध एवं अदभूत हैं। यहा की अधिकांष जनसंख्या गंगा नदी के द्वारा लार्इ गर्इ उपजाऊ मिÍी के मैदानी भागों में कृषि कार्य पर आश्रित हैं। कृषि क्षेत्र में बढ़ते हुए जनसंख्या बोझ को देखते हुए सरकार ने जिला स्तर एवं राज्य स्तर पर विभिन्न प्रकार की बहुपयोगी कृशि योजनाओं का कार्यान्वयन किया है, जिसके फलस्वरूप कृशकों में अप्रत्याषित जागरूकता आयी है और कृशि विविधीकरण के अन्तर्गत नकदी फसलों का उत्पादन किया जा रहा हैं।  
  इसी कार्यक्रम के अन्र्तगत आत्मा, योजना के द्वारा मुंगेर जिले के विभिन्न प्रखण्डों में भिन्न-भिन्न आर्थिक गतिविधि के उपर किसान क्लब एवं स्वंय सहायता समूह का गठन कराकर उन्हें, प्रषिक्षित किया गया। इसी क्रम में संग्रामपुर प्रखण्ड के बलिया पंचायत अन्तर्गत निर्मित स्वंय सहायता समूह के विभिन्न कृषकों ने सब्जी उत्पादन को व्यवसाय का एक रूप दिया। श्री दिवाकर कु0 सिंह, अपना कोश स्वंय सहायता समूह, ददरीजाला संग्रामपुर के नेतृत्व में कृशकों (अजीत कुमार, दिवाकर सिंह, धीरेन्द्र प्र0 सिंह उपेन्द्र प्रसाद सिंह, मनोज कुमार सिंह एवं मृत्युंजय कुमार सिंह) ने ओल की उन्नत खेती, प्रसंस्करण एवं विपणन को नया आयाम प्रदान किया। दिवाकर सिंह के नेतृत्व में ये सभी कृषक पूर्व से ही परंपरागत कृषि को अपना आधार बनाकर अपनी आजीविका चला रहे थे। इस प्रकार की खेती से उन्हें प्रर्याप्त लाभ नहीं मिल पा रहा था। और अपने लागत के अनुरूप लाभ न मिलता देख वे सभी हतोत्साहित रहने लगे। इसी क्रम में आत्मा, मुंगेर के पदाधिकारियों द्वारा उक्त प्रखण्ड का क्षेत्र भ्रमण किया गया। इसके उपरान्त वहा की आवष्यकता, मिÍी के प्रकार एवं व्यवसाय के स्वरूप को देखते हुए, वहा के कृषकों को सब्जी की खेती के लिए प्रेरित किया गया। सब्जी की खेती के प्रोत्साहित करने के लिए आत्मा, मुंगेर के द्वारा वहा के कृषि विज्ञान केन्द्र, मुंगेर के वैज्ञानिकों के द्वारा प्रषिक्षण का आयोजन करवाया गया। सब्जी में उनलोगों के द्वारा वर्ष 2006-07 के मौसमी वर्ष में ओल की वैज्ञानिक खेती प्रारम्भ की गर्इ।
जब इसके उत्पादन की बारी आर्इ तो सभी संबंधित कृषक फूले नहीं समा रहे थे, क्योंकि स्थानीय एव शहरी बाजार में इसकी अप्रत्याषित मा़ग एवं उपयोग को देखते हुए इनका विपणन भी खेत से होने लगा। इसके विपणन के सुगमता एंव सुलभता को देखते हुए अन्य प्रगतिषील कृषक भी इसकी खेती के लिए प्रेरित हुए हैं। जिससे की उनका आर्थिक मुनाफा दिन-प्रति-दिन बढ़ता जा रहा हैं। ओल की उत्पादकता को देखते हुए इन लोगों में इसके प्रसंस्करण के प्रति भी जागरूकता आने लगी और अब ये सभी इसके अचार, मिठार्इ एवं चटनी जैसे उत्पाद को बाजार में लाने का प्रयास करने लगे हैं।  
   
Work Plan
(Page-1) Work Plan of ATMA Munger
(Page-2) Work Plan of ATMA Munger
(Page-3) Work Plan of ATMA Munger
(Last Page) Work Plan of ATMA Munger
Asarganj,Munger
(Page-2)Asarganj,Munger
(Page-3)Asarganj,Munger
(Page-4)Asarganj,Munger
(Page-5)Asarganj,Munger
(Page-6)Asarganj,Munger
(Page-7)Asarganj,Munger
(Page-8)Asarganj,Munger
(Page-8)Asarganj,Munger
(Page-9)Asarganj,Munger
(Page-10)Asarganj,Munger
(Page-11)Asarganj,Munger
Bariyarpur,Munger
(Page-2)Bariyarpur,Munger
(Page-3)Bariyarpur,Munger
(Page-4)Bariyarpur,Munger
(Page-5)Bariyarpur,Munger
(Page-6)Bariyarpur,Munger
(Page-7)Bariyarpur,Munger
(Page-8)Bariyarpur,Munger
(Page-9)Bariyarpur,Munger
(Page-10)Bariyarpur,Munger
Dharhara,Munger
(Page-2)Dharhara,Munger
(Page-3)Dharhara,Munger
(Page-4)Dharhara,Munger
(Page-5)Dharhara,Munger
(Page-6)Dharhara,Munger
(Page-7)Dharhara,Munger
(Page-8)Dharhara,Munger
(Page-9)Dharhara,Munger
(Page-10)Dharhara,Munger
Haveli Kharagpur,Munger
(Page-2)Haveli Kharagpur,Munger
(Page-3)Haveli Kharagpur,Munger
(Page-4)Haveli Kharagpur,Munger
(Page-5)Haveli Kharagpur,Munger
(Page-6)Haveli Kharagpur,Munger
(Page-7)Haveli Kharagpur,Munger
(Page-8)Haveli Kharagpur,Munger
(Page-9)Haveli Kharagpur,Munger
(Page-10)Haveli Kharagpur,Munger
(Page-11)Haveli Kharagpur,Munger
Jamalpur,Munger
(Page-2)Jamalpur,Munger
(Page-3)Jamalpur,Munger
(Page-4)Jamalpur,Munger
(Page-5)Jamalpur,Munger
(Page-6)Jamalpur,Munger
(Page-7)Jamalpur,Munger
(Page-8)Jamalpur,Munger
(Page-9)Jamalpur,Munger
(Page-10)Jamalpur,Munger
Sadar Munger,Munger
(Page-2)Sadar Munger,Munger
(Page-3)Sadar Munger,Munger
(Page-4)Sadar Munger,Munger
(Page-5)Sadar Munger,Munger
(Page-6)Sadar Munger,Munger
(Page-7)Sadar Munger,Munger
(Page-8)Sadar Munger,Munger
(Page-9)Sadar Munger,Munger
(Page-10)Sadar Munger,Munger
(Page-11)Sadar Munger,Munger
(Page-12)Sadar Munger,Munger
Sangrampur,Munger
(Page-2)Sangrampur,Munger
(Page-3)Sangrampur,Munger
(Page-4)Sangrampur,Munger
(Page-5)Sangrampur,Munger
(Page-6)Sangrampur,Munger
(Page-7)Sangrampur,Munger
(Page-8)Sangrampur,Munger
(Page-9)Sangrampur,Munger
(Page-10)Sangrampur,Munger
Work Plan of Tarapur(all),Munger
Tetiya Bamber,Munger
(Page-2)Tetiya Bamber,Munger
(Page-3)Tetiya Bamber,Munger
(Page-4)Tetiya Bamber,Munger
(Page-5)Tetiya Bamber,Munger
(Page-6)Tetiya Bamber,Munger
(Page-7)Tetiya Bamber,Munger
(Page-8)Tetiya Bamber,Munger
(Page-9)Tetiya Bamber,Munger
(Page-10)Tetiya Bamber,Munger
(Page-11)Tetiya Bamber,Munger
Quick Links
Home
Home | SREP | Photo Gallery | Member Details | Video Gallery | About ATMA | Contact Us | About Us
Developed and Designed by : XMicrosystem